Union cabinet has approved electrification of all major railway lines in the country-Manoj Sinha

0
87

प्रधानमंत्री की अध्यक्षता में कैबिनेट ने सभी बड़ी रेल लाइनों के विद्युतीकरण की स्वीकृति दी-मनोज सिन्हा
रितेश श्रीवास्तव अंशू/मुख्य संवाददाता/क्लीन मीडिया टुडे

Rail Minister, Manoj Sinha inagurates DEMU shed in Audihar

वाराणसी 29 जनवरी,:क्लीन मीडिया टुडेः रेल राज्य मंत्री मनोज सिन्हा ने कहा है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में कैबिनेट ने भारतीय रेल की सभी बड़ी लाइनों के विद्युतीकरण की स्वीकृति प्रदान कर दी है।
लगभग सवा सौ करोड़ रुपये की लागत से औड़िहार में बने डेमू शेड का उद्घाटन करते हुए रेल राज्य मंत्री मनोज सिन्हा ने यह बात कही। मनोज सिन्हा ने कहा कि यह डेमू शेड निर्धारित समयावधि के अन्दर रू0 123.26 करोड़ की लागत से पूरी गुणवत्ता के साथ बनाया गया है। इस डेमू शेड में अत्याधुनिक मशीनें लगाई गई हैं। अब डेमू गाड़ियों का अनुरक्षण यहीं हो सकेगा और सहायक उद्योगों का विकास होगा जिससे आसपास के लोगों को रोजगार मिलेगा ।
उन्होंने कहा कि आज ही दुल्लहपुर में टावर वैगन पी.ओ.एच.शेड का शिलान्यास किया गया।
Rail Minister, Manoj Sinha inagurates DEMU shed in Audihar

सिन्हा ने कहा कि भविष्य की आवश्यकताओं को देखते हुये भारतीय रेल की आधारभूत संरचना को सुदृढ़ किया जा रहा है। जिसके अन्तर्गत बड़े पैमाने पर आमान परिवर्तन, दोहरीकरण, नई रेल लाइन विद्युतीकरण एवं कारखानों की स्थापना प्राथमिकता के आधार पर की जा रही है।
Rail Minister, Manoj Sinha inagurates DEMU shed in Audihar

रेल मंत्रालय द्वारा उत्तर प्रदेश में रेलवे के इन्फ्रास्ट्रक्चर को मजबूत बनाने पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है। प्रदेश में रेलों के विकास हेतु वर्ष 2009-14 तक रू0 1109 करोड़ की तुलना में वर्ष 2014-19 तक रू0 5278 करोड़ का औसत वार्षिक आवंटन किया गया जो कि 376 प्रतिशत अधिक है। उत्तर प्रदेश में वर्ष 2014 से अब तक 409 किमी. रेल लाइन का निर्माण एवं 614 किमी. लाइन का दोहरीकरण, 471 किमी. आमान परिवर्तन, 2156 किमी. रेल लाइनों का विद्युतीकरण करने के साथ 29 सड़क उपरिगामी पुलों का निर्माण पूरा किया गया ।
रेल राज्य मंत्री ने कहा कि पूर्वोत्तर रेलवे पर अधिकतर मीटर गेज की लाइनों को बड़ी लाइनों में परिवर्तित किया जा चुका है। मीटर गेज की शेष लाइनों को बड़ी लाइन में बदलने का कार्य अन्तिम चरण में है। वर्तमान में मीटर गेज के सभी खण्डों का आमान परिवर्तन कार्य स्वीकृत है। इस रेलवे के छपरा-इलाहाबाद, भटनी-औड़िहार औड़िहार-जौनपुर इन्दारा-फैफना मऊ-शाहगंज, सीतापुर छावनी-बुढ़वल खण्डों के दौहरीकरण का कार्य तीव्र गति से किया जा रहा है जबकि औड़िहार-वाराणसी-मंडुवाडीह रेल खण्ड का दोहरीकरण कार्य पूरा हो चुका है। इसके अतिरिक्त बुढ़वल-गोण्डा एवं डोमिनगढ़-गोरखपुर-कुसुम्ही तीसरी रनिंग लाइन तथा गोरखपुर-नकहा जंगल दूसरी रनिंग लाइन का निर्माण कार्य प्रगति पर है।
उन्होंने कहा कि इलाहाबाद में आयोजित महाकुम्भ में आने-जाने वाले श्रद्धालु यात्रियों की सुविधा के लिये पूर्वोत्तर रेलवे प्रशासन द्वारा 131 जोड़ी विशेष गाड़ियों का संचलन विभिन्न स्टेशनों से किया जा रहा है। इसके अतिरिक्त मुम्बई,पूणे एवं देश के अन्य महानगरों से इलाहाबाद के लिये विशेष गाड़ियों का संचलन विभिन्न स्नान पर्वों पर किया जा रहा है।
सदस्य विधान परिषद श्री केदार नाथ सिंह ने समारोह को सम्बोधित करते हुये औंडिहार में डेमू शेड की स्थापना पर प्रसन्नता व्यक्त की ।
Rail Minister, Manoj Sinha inagurates DEMU shed in Audihar

पूर्वोत्तर रेलवे के महाप्रबन्धक श्री राजीव अग्रवाल ने कहा कि रेल राज्य मंत्री श्री सिन्हा जी ने क्षेत्र के विकास के लिये कई सौगातें दी हैं।रू-
उन्हो ने कहा छपरा-बलिया-वाराणसी-इलाहाबाद खण्ड का विद्युतीकरण का कार्य पूरा हो चुका है। गाजीपुर में क्षेत्रीय रेल प्रशिक्षण संस्थान स्थापित कर दिया गया है और यहाँ रेल कर्मचारियों के प्रशिक्षण का कार्य आरम्भ हो गया है। गाजीपुर सिटी से कोलकाताए मुम्बई, दिल्ली, श्रीमाता वैष्णो देवी कटरा के लिये सीधी ट्रेन की सुविधा उपलब्ध कराई गयी है। मऊ से औड़िहार होकर लखनऊ के लिये गाड़ी चलाई गई है।
छपरा-इलाहाबाद खण्ड दोहरीकरण के अन्तर्गत औड़िहार-मंडुवाडीह का कार्य पूरा हो चुका है। भटनी-औड़िहार, इन्दारा-फेफना, मऊ-शाहगंज, औड़िहार-जौनपुर खण्डों के दोहरीकरण एवं विद्युतीकरण का कार्य तथा इन्दारा-दोहरीघाट खण्ड के आमान परिवर्तन का कार्य प्रगति पर है।
श्री अग्रवाल ने कहा कि उपनगरीय यात्रियों को आरामदायक एवं तीव्रगामी यात्रा सुविधा उपलब्ध कराने हेतु विभिन्न नगरों के बीच डेमू गाड़ियों का परिचालन किया जा रहा है। इन डेमू गाड़ियों के रख-रखाव हेतु औंड़िहार में डेमू शेड का निर्माण माननीय रेल राज्य मंत्री श्री मनोज सिन्हा जी की पहल पर किया गया है। इस शेड में डेमू के साथ ही मेमू गाड़ियों का भी अनुरक्षण होगा।
निदेशकध्ऑपरेशन्स आर.वी.एन. एल. श्री अरुण कुमार ने सभी का स्वागत करते हुए डेमू शेड की विशेषताओं के विषय में विस्तार से बताया ।

दुल्लहपुर में समारोह को सम्बोधित करते हुये रेल राज्य मंत्री एवं संचार राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्री मनोज सिन्हा ने कहा
पूर्वोत्तर रेलवे के छपरा- बलिया-वाराणसी-इलाहाबाद, गोरखपुर कैण्ट-बाल्मिकीनगर रेल खण्डों के विद्युतीकरण का कार्य पूरा हो चुका है। भटनी-औंड़िहार-वाराणसी सहित विभिन्न रेल खण्डों के विद्युतीकरण के कार्य तीव्र गति से किया जा रहे है । इन विद्युतीकृत रेल खण्डों में आने वाले फाल्ट तथा उसके नियमित अनुरक्षण कार्य हेतु टावर वैगनों की आवश्यकता होगी, जिन्हें हमेशा कार्यशील रखना आवश्यक है। रेल मंत्रालय ने इन टावर वैगनों के पी.ओ.एच. हेतु शेड निर्माण का निर्णय लियाए जिसे दुल्लहपुर स्टेशन पर स्थापित किया जा रहा है। इस शेड में टावर वैगनों का अनुरक्षण किया जायेगा जिससे समय व धन दोनों की बचत होगी।
रेल राज्य मंत्री मनोज सिन्हा दुल्लहपुर स्टेशन पर रू. 50.02 करोड़ की लागत से टावर वैगन पी.ओ.एच. शेड का शिलान्यास किया और औड़िहार में डेमू शेड का उद्घाटन किया
जिसमें पूर्वोत्तर रेलवे के वाराणसी मण्डल अन्तर्गत चलने वाली डेमू गाड़ियों का अनुरक्षण कार्य उच्च कोटि एवं समयानुसार किया जायेगा, ताकि डेमू गाड़ियों के संचलन में कोई व्यवधान उत्पन्न हो सके। इस शेड में मेमू गाड़ियों का भी अनुरक्षण किया जायेगा ।
पूर्वोत्तर रेलवे के छपरा-बलिया, वाराणसी-बलिया एवं गोरखपुर कैण्ट-कप्तानगंज-बाल्मिकीनगर खण्डों के विद्युतीकरण का कार्य पूरा हो चुका है। अन्य खण्डों का कार्य भी तेजी से किया जा रहा है।
भारत सरकार माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में सबका साथ सबका विकास कार्यक्रम के तहत रेल के माध्यम से पिछले क्षेत्रों के विकास हेतु प्रतिबद्ध है।
निदेशक ध्ऑपरेशन्स आर.वी.एन. एल. श्री अरुण कुमार ने समारोह में आये सभी अतिथियों का स्वागत करते हुये दुल्लहपुर में टावर वैगन पी.ओ.एच. शेड की रूप रेखा और कार्यप्रणाली पे विस्तार से प्रकाश डाला और इसकी स्वीकृति पर प्रसन्नता व्यक्त की और कहा कि श्री सिन्हा जी क्षेत्र के विकास के लिये निरन्तर प्रयासरत हैं और उसी क्रम में आज इस टावर वैगन पी.ओ.एच. शेड का शिलान्यास किया जा रहा है।
दुल्लहपुर में आयोजित समारोह में अतिथियों का स्वागत करते हुये महाप्रबन्धक, पूर्वोत्तर रेलवे श्री राजीव अग्रवाल ने कहा कि दुल्लहपुर स्टेशन भवन को आकर्षक स्वरूप प्रदान करने के साथ ही यहाँ यात्री सुविधाओं का विस्तार किया गया है। भटनी-औड़िहार, इन्दारा-फेफना, मऊ-शाहगंज, औड़िहार-जौनपुर खण्डों के दोहरीकरण एवं विद्युतीकरण का कार्य प्रगति पर है।
पूर्वोत्तर रेलवे के प्रमुख रेल खण्डों का विद्युतीकरण कर दिया गया हैए शेष बचे सभी खण्डों पर विद्युतीकरण कार्य तीव्र गति से किया जा रहा है। विद्युतीकृत रेल खण्डों में आने वाले फाल्ट तथा नियमित अनुरक्षण हेतु टावर वैगनों का प्रयोग होता है। इन टावर वैगनों के रखरखाव हेतु पी.ओ.एच. शेड की आवश्यकता महसूस की गई । दुल्लहपुर में टावर वैगन पी.ओ.एच. शेड की स्थापना हेतु रेल राज्य मंत्री की पहल पर रेल मंत्रालय द्वारा स्वीकृति दी गई है।
रेल राज्य मंत्री श्री मनोज सिन्हा द्वारा टावर वैगन पी.ओ.एच. शेड का शिलान्यास किया गया।
इस शेड को पर्यावरण के अनुकूल बनाया जायेगा। इस शेड के बन जाने से टावर वैगनों का नियमित अनुरक्षण पूर्वोत्तर रेलवे पर ही संभव हो जिस से समय एवं धन दोनों की बचत होगी ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here