The Mother India was being looted and Congress was a mute spectator-PM

0
134

प्रधानमंत्री ने बोला कांग्रेस पर हमला, कहा, ‘देश में लूट होती रही और कांग्रेस मूक दर्शक बनी रही’
रितेश श्रीवास्तव एवं अरविंद केसरी/ क्लीन मीडिया टुडे टीम

PM Modi Inaugurated Pravasi Bharatiya Diwas on 22nd Jan at Varanasi

वाराणसी, 22 जनवरी:क्लीन मीडिया टुडेः प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज यहां प्रवासी भारतीय दिवस कार्यक्रम का औपचारिक उद्घाटन करते हुए कहा कि बीते साढ़े चार वर्ष में भारत ने दुनिया में अपना स्वभाविक स्थान फिर से प्राप्त करने की दिशा में बड़ा कदम आगे बढ़ाया है और बदलाव इस कदर हुआ है कि पहले लोग कहते थे कि ‘भारत बदल नहीं सकता’ लेकिन हमने इस सोच को ही बदल दिया है और अब लोग कहने लगे हैं कि ‘भारत बदल रहा है।’
प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, ‘‘हमने बदलाव करके दिखाया है।’’
PM Modi Inaugurated Pravasi Bharatiya Diwas on 22nd Jan at Varanasi

उन्होंने कहा कि आज भारत दुनिया की सबसे तेजी से बढ़ती आर्थिक ताकत है और खेल जगत में भी हम बड़ी शक्ति बनने की तरफ निकल पड़े हैं। उन्होंने पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी का नाम लिये बगैर कहा कि आप में से अनेक लोगों ने हमारे देश के एक पूर्व प्रधानमंत्री की भ्रष्टाचार को लेकर कही एक बात जरूर सुनी होगी। उन्होंने कहा था कि केंद्र सरकार दिल्ली से जो पैसा भेजती है, उसका सिर्फ 15 प्रतिशत ही लोगों तक पहुंच पाता है। इतने वर्ष तक देश पर जिस पार्टी ने शासन किया, उसने देश को जो व्यवस्था दी थी, उस सच्चाई को उन्होंने स्वीकारा था। अफसोस रहा कि बाद के अपने 10-15 साल के शासन में भी इस लूट को, इस लीकेज को बंद करने का प्रयास नहीं किया गया। देश का मध्यम वर्ग ईमानदारी से टैक्स देता रहा, और जो पार्टी इतने सालों तक सत्ता में रही, वो इस 85 प्रतिशत की लूट को देखकर भी अनदेखा करती रही। हमारे देश के एक प्रधानमंत्री ने सत्ता में रहते हुये स्वीकार किया था कि दिल्ली से चले एक रुपया से मात्र 15 पैसा ही गरीबों तक पहुंचता है। घातक बीमारी का पता चल जाने के बाद भी उन्होंने इस लूट को रोकने के लिये कुछ भी नहीं किया। हमने इस लूट को खत्म किया और पांच लाख अस्सी हजार करोड़ रुपये सीधे जनता के खाते में दिये गये।
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी मंगलवार को वाराणसी में आयोजित 15वें प्रवासी भारतीय दिवस कार्यक्रम में दुनिया के विभिन्न देशों से आये विशाल संख्या में प्रवासियों को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि हमने टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल करके इस 85 प्रतिशत की लूट को 100 प्रतिशत खत्म कर दिया है। साढ़े चार वर्षों में 5 लाख 78 हजार करोड़ रुपए यानि करीब-करीब 80 बिलियन डॉलर हमारी सरकार ने अलग-अलग योजनाओं के तहत सीधे लोगों को दिए हैं, उनके बैंक खाते में ट्रांसफर किए हैं। आज भारत अनेक मामलों में दुनिया का अगुवाई करने के लिए तैयार है। हम ऐसे संसाधन तैयार कर रहे हैं जिससे अनेक देशों की समस्या दूर हो सकती हैं। आज इंफ्रास्ट्रक्चर के मामले में हम बढ़ रहे हैं तो स्पेस में भी बड़ी सफलता पा रहे हैं। सरकार का पूरा प्रयास है कि आप सभी जहां भी रहें सुखी रहें और सुरक्षित रहें।
मोदी ने कहा, ‘‘बीते साढ़े 4 वर्षों के दौरान संकट में फंसे दो लाख से ज्यादा भारतीयों को सरकार के प्रयासों से मदद मिली है। भारत के गौरवशाली अतीत को फिर स्थापित करने के लिए 130 करोड़ भारतवासियों के संकल्प का ये परिणाम है और मैं आज बहुत गर्व से कहना चाहता हूं कि इस संकल्प में आप भी शामिल हैं।’’
PM Modi Inaugurated Pravasi Bharatiya Diwas on 22nd Jan at Varanasi

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि बनारस नगरी चिरकाल से भारत की सांस्कृतिक, आध्यात्मिक और ज्ञान की परंपरा से दुनिया में देश का परिचय कराती रही है। प्रवासी अपने दिलों में भारत और भारतीयता को संजोए हुए, इस धरती की ऊर्जा से दुनिया को परिचित करा रहे हैं। आज पूरा विश्व हमारी बात को सुन रहा है और उन्हें अपना भी रहा है। उन्होंने कहा कि सबका साथ सबका विकास के विजन पर चलते हुए इस देश ने बहुत कुछ पाया है। आज इकोनॉमिक क्षेत्र में भी हम आगे बढ़े हैं तो खेलों के क्षेत्र में भी आगे बढ़े हैं। आज हमारा युवा मेक इन इंडिया के तहत रिकॉर्ड स्तर पर मोबाइल फोन, कार, बस, ट्रक, ट्रेन बना रहा है, खेतों मे रिकॉर्ड अन्न भी पैदा हो रहा है। आज भारत अनेक मामलों में दुनिया की अगुवाई करने की स्थिति में है। इंटरनेशनल सोलर अलायंस ऐसा ही एक मंच है। इसके माध्यम से हम दुनिया को वन वल्र्ड, वन सन, वन ग्रिड की तरफ ले जाना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि इस मंच पर पहले भी कह चुका हूं और आज फिर दोहराना चाहता हूं कि आप जिस भी देश में रहते हैं, वहां से अपने आसपास के कम से कम 5 परिवारों को भारत आने के लिए प्रेरित करिए। आपका प्रयास देश में टूरिज्म बढ़ाने में अहम भूमिका निभाएगा। पासपोर्ट के साथ-साथ वीजा से जुड़े नियमों को भी सरल किया जा रहा है। हमारी सरकार ने पीआईओ कार्ड को ओसीआई कार्ड में बदलने की प्रक्रिया को भी आसान बनाया है। दुनियाभर में हमारे दूतावासों और सुविधा केन्द्रों को पासपोर्ट सेवा प्रोजेक्ट से जोड़ा जा रहा है। इससे आप सभी के लिए पासपोर्ट सेवा से जुड़ा एक केन्द्रीयकृत प्रणाली तैयार हो जाएगा। अब तो एक कदम आगे बढ़ते हुए चिप बेस्ड ई-पासपोर्ट जारी करने की दिशा में भी काम चल रहा है। आपकी सोशल सिक्योरिटी के साथ-साथ पासपोर्ट, वीजा, पीओआई और ओसीआई कार्ड को लेकर भी तमाम प्रक्रियाओं को आसान करने का प्रयास सरकार कर रही है। नरेन्द्र मोदी ने कहा कि प्रवासी भारतीयों के लिए कुछ महीने पहले ही एक नया कदम भी उठाया गया है, कि प्रवासियों को दूतावास को सेवाओ से जोड़ा जा रहा है। केंद्रीयकृत सेवा किया जा रहा है। जल्द ही ई पासपोर्ट जारी होगा। ई वीजा मिलने से समय की बचत हो रही है। इनोवेशन में प्रवासी बड़ी भूमिका निभा सकते हैं। सरकार सभी कुछ एक साथ एक प्लेटफॉर्म पर ला रही है। प्रवासी तीर्थ दर्शन योजना की शुरुआत की जा रही है। प्रधानमंत्री ने कहा कि हम बापू की 150वीं जयंती हम मना रहे हैं। देश-,विदेश में रहने वाले प्रवासी भारतीय अपने-अपने देश मे भी इस अवसर पर कुछ करना चाहेंगे, तो वहाँ पर भारतीय दूतावास सहयोग करेगा। उन्होंने कहा कि गाँधी ग्लोबल हैं।
उन्होंने कहा कि गुरुनानक जयंती पर भी आपके सहयोग की जरूरत है।
प्रधानमंत्री एवं काशी के सांसद नरेन्द्र मोदी ने प्रवासी भारतीय दिवस के आयोजन के लिए काशीवासियों को विशेष रूप से प्रणाम किया व इसके लिये प्रदेश सरकार और जिला प्रशासन की भी सराहना की। उन्होंने समारोह में मौजूद सभी लोगों का स्वागत किया और खुद को भारतीय प्रवासी दिवस कार्यक्रम का मेजबान बताया। उन्होंने प्रवासियों से कहा कि यहां उनके पूर्वजों की मिट्टी की सुगंध उन्हें खींच लायी है। दुनियाभर में बसे आप सभी भारतीयों से संवाद का अभियान हम सभी के प्रिय श्रद्धेय अटल बिहारी वाजपेयी जी ने शुरु किया था। अटल जी के जाने के बाद पहला प्रवासी भारतीय सम्मेलन है। इस अवसर पर मैं अटल जी को भी श्रद्धा सुमन अर्पित करता हूं, उनकी इस विराट सोच के लिए नमन करता हूं। पुर्तगाल, त्रिनिदाद-टोबैगो और आयरलैंड जैसे अनेक देशों को भी ऐसे सक्षम लोगों का नेतृत्व मिला है। जिनकी जड़ें भारत में हैं। आप सभी जिस देश में बसे हैं, वहां समाज के लगभग हर क्षेत्र में लीडरशिप के रोल में दिखते हैं। मॉरिशस को प्रविंद जुगनाथ जी पूरे समर्पण के साथ आगे बढ़ा रहे हैं। इस मौके पर उन्होंने सिद्धगंगा मठ के मठाधीश शिवकुमार स्वामी के निधन पर शोक जताया।
प्रधानमंत्री ने कहा, ‘’29 जनवरी को करूंगा बच्चों से संवाद’’
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि मैं व्यक्तिगत रूप से पिछले एक दो साल से कार्यक्रम कर रहा हूं। मार्च का महीना परीक्षा का महीना होता है। हर घर में तनाव का माहौल होता है। मैं हमेशा कोशिश कर रहा हूं कि सभी बच्चों से उनके परिजनों, शिक्षकों से संवाद करूं। 29 जनवरी को मैं देश और दुनिया के बच्चों से नरेंद्र मोदी ऐप के जरिए करोड़ो परिवार के साथ एक्जाम वॉरियर के संबंध में संवाद करने वाला हूं। 29 जनवरी सुबह 11 बजे ये कार्यक्रम होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here